रिलायंस जिओ की वजह से इस क्षेत्र में अमेरिका को पछाड़कर भारत दुनिया में नंबर 1.

भारत दुनिया में सबसे ज्यादा मोबाइल डेटा इस्तेमाल करने वाला देश बन गया है. नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने ट्वीट के जरिए इस बात की जानकारी दी है. उन्होंने ट्वीट के जरिए बताया कि हम 150 करोड़ गीगाबाइट मोबाइल डेटा हर महीने इस्तेमाल करने के साथ दुनिया में नंबर 1 उपभोक्ता बन गए हैं. भारत में आश्चर्यजनक रूप से मोबाइल डाटा की खपत बढ़ने और दुनिया में अव्वल आने में सबसे अहम योगदान जियो का है. जब से रिलायंस ने अपनी 4जी मोबाइल सर्विस जियो लॉन्च की है देश का मोबाइल सर्विस बाजार बदल गया. जियो की एंट्री से पहले मोबाइल डाटा इस्तेमाल के मामले में भारत का दुनिया में 155 नंबर था.

डेटा इस्तेमाल में भारत बना अव्वल
india become no 1 in the data consumption

देश में मोबाइल डेटा इस्तेमाल की खपत बढ़ने में सबसे बड़ा योगदान ‘जियो’ का रहा. जियो ने एक साल के अंदर पूरी टेलीकॉम इंडस्ट्री को बदल कर रख दिया. जियो किस तरह से सफल रहा इस बात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि इसके आते ही एक साल के अंदर देश में मोबाइल डाटा इस्तेमाल 20 करोड़ गीगाबाइट प्रतिमाह से बढ़कर 150 करोड़ गीगाबाइट प्रतिमाह हो गया. ये आंकड़ा पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा है.

नीति आयोग के सीईओ ने ट्वीट कर दी जानकारी
india become no 1 in the data consumption

भारत के सबसे ज्यादा मोबाइल डेटा इस्तेमाल करने वाला देश बनने पर नीती आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने ट्वीट किया, उन्होंने कहा कि अविश्वसनीय! प्रतिमाह 150 करोड़ गीगाबाइट मोबाइल डेटा इस्तेमाल करके, भारत मोबाइल डेटा इस्तेमाल करने के मामले में दुनिया का नंबर एक देश बन गया है. उन्होंने बताया कि मोबाइल डेटा इस्तेमाल करने के मामले में भारत अमेरिका और चीन से कहीं आगे निकल गया है. चौंकाने वाली बात ये है कि भारत में जितना मोबाइल डेटा इस्तेमाल हो रहा उतना अमेरिका और चीन मिलकर भी इस्तेमाल नहीं कर रहे हैं.

‘जियो’ की एंट्री से आया बड़ा बदलाव
india become no 1 in the data consumption

भारत में हर महीने 150 करोड़ गीगाबाइट मोबाइल डेटा इस्तेमाल में सबसे ज्यादा चौंकाने वाली बात ये है कि इसमें से 100 करोड़ से ज्यादा का जीबी डेटा का इस्तेमाल अकेले जियो के ग्राहक कर रहे हैं. इतना ही जियो की एंट्री के बाद डेटा टैरिफ की कीमत पर भी बड़ा असर देखने को मिला है. जियो के आने के बाद देश में 4जी स्मार्टफोन की संख्या में भी तेजी से इजाफा हुआ है.

यदि आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया तो इसे अपने मित्रों के साथ जरुर शेयर करे

loading...