वह 20 तस्वीरें जिन्हें देखकर विश्वास नहीं होगा कि ये इंसान नहीं बल्कि मूर्तियाँ हैं.

किसी भी तरह की कला, इंसान के हुनर के तौर पर गिनी जाती है. अधिकांश की चाहत होती है कि वो किसी न किसी तौर पर कला से जुड़ जाए. बात अगर मूर्तिकला की हो तो फिर कहना ही क्या? मूर्तियां हर इंसान को आकर्षित करती हैं. कुछ तो इतनी कमाल होती हैं कि एक पल के लिए लगता ही नहीं है कि वो कोई मूर्ति है. इसका श्रेय पूरी तरह से मूर्तिकार को ही जाता है. अब आप सोच रहे होंगे कि आज हुआ क्या है? हम आपसे मूर्तियों की बात क्यों कर रहे हैं?

तो भिया, मामला कुछ यूं है कि हम आपको ऐसी ही कुछ मूर्तियों की झलकियां दिखाने जा रहे हैं जो पहली बार में तो आपको वास्तविक ही दिखाई देंगी. मसलन आप सोचेंगे कि यह मूर्ति नहीं कोई इंसान है. आपका भी मन होगा कि एक सेल्फी तो इसके साथ ले ली जाए.

भरोसा नहीं हो तो आप खुद ही देख लीजिए. हमें तो पूरा भरोसा है कि आप भी इन्हें देखकर आश्चर्य से भर जाएंगे. यह कलेक्शन ही कुछ ऐसा है. आप बस एक झलक देखिए.

ओह नॉटी
20 statues that felt us like a real

आपने दुनियाभर में कई मूर्तियां देखी होंगी, लेकिन इस तरह की नॉटी मूर्ति तो आपने नहीं देखी होगी.

भूख लगी है
20 statues that felt us like a real

इंसानों का तस्वीरों के प्रति प्यार देखते ही बनता है. अब इसमें ही देख लीजिये. तस्वीरों के प्यार ने इन्हें एक्टर बना दिया है. शायद इसे भी बहुत भूख लग रही है. तभी तो खुद को रोक नहीं पा रहा है. और तो और मूर्ति का बर्गर खाने की एक्टिंग भी कर रहा है.

दोस्तों, मुझे भी अपने साथ ले चलो
20 statues that felt us like a real

बचपन वाकई मासूम होता है. अब इस बच्चे को ही देख लो. प्यार आ गया ना आपको भी.

बढ़िया सेल्फी
20 statues that felt us like a real

सेल्फी का बुखार तो आज के दौर में हर तरफ है. ऐसे में यह भाई ऐसा कर भी रहा है तो कोई गलत बात नहीं है.

बहुत थक गई हूं यार…
20 statues that felt us like a real

बताइए, मतलब हालत तो मूर्ति की ज्यादा खराब दिख रही है.

थोड़ी दया करो
20 statues that felt us like a real

इंसान तो इंसान, यहां तो मूर्तियां भी मारपीट मचा रही हैं.

प्यार की तो कोई उम्र नहीं होती
20 statues that felt us like a real

बिंदास बेबी है यह. तभी तो इतनी दबंग नजर आ रही है.

मैं हूं स्पाइडरमैन
20 statues that felt us like a real

ओ भाई, कम से कम मेरी ड्रेस तो देख ले यार.

ये मछली मिल जाए तो रात में पार्टी पक्की
20 statues that felt us like a real

लो मतलब, मछली देखी नहीं कि मुंह में पानी आना शुरू. सीधे पार्टी ही प्लान कर ली.

मुझे खाकर तुम्हें क्या मिलेगा?
20 statues that felt us like a real

यार, सवाल तो बिल्कुल ठीक ही पूछा है. कोई तो जवाब दे दो.

थोड़ी सफाई ही कर दो यार
20 statues that felt us like a real

कम से कम मूर्ति को तो छोड़ दो यार. गंदगी मचा रखी है.

अरे सुनो, मैं तो अभी बच्चा हूं
20 statues that felt us like a real

बचा लो, वरना आज तो यह जान से ही चला जाएगा.

क्या कर रहे हो यार?
20 statues that felt us like a real

अरे ओ भाई, कहां-कहां हाथ डाल देते हो यार. पब्लिक प्लेस का तो लिहाज कर लो.

बस इस बार मुझे माफ कर दो
20 statues that felt us like a real

पुलिसमैन से भी चालाकी. हो गई ना गड़बड़.

कब तक मारोगे मुझे
20 statues that felt us like a real

छोड़ दो यार. बच्चा ही तो है. ऐसे तो बात नहीं बन पाएगी.

मैं इस बच्ची को नहीं ले जाने दूंगी
20 statues that felt us like a real

देखना, मजाक-मस्ती में कोई मुसीबत मत खड़ी कर लेना भाई लोग.

अब तो तुम्हारा खेल खत्म ही समझो
20 statues that felt us like a real

इतने सारे लोगों से एक अकेला आदमी उलझेगा तो मुसीबत तो होना ही है.

मुझे मत खाओ, मैं तुम्हारे जैसा मोटा हूं
20 statues that felt us like a real

इसको तो भगवान ही बचा सकते हैं.

मैं तो चला
20 statues that felt us like a real

यदि आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया तो इसे अपने मित्रों के साथ जरुर शेयर करे

loading...