बच्चों को यह फल खिलाने से पहले सौ बार सोच ले, बेहद खतरनाक भी साबित हो सकता हैं जानिए क्यों

हमें कई बार कहा जाता है फल खाया करो, फल खाया करो. ये चीज़ बचपन से कही जा रही है पर हमें कभी पिज्जा, बर्गर, चाट-पापड़ी के अलावा कुछ जमता ही नहीं है. शायद उसी का असर हमारे पेट पर नज़र आ रहा है. खैर, वो अलग बात है. जिस मामले को समझाने के लिए भूमिका तैयार की जा रही है वो ये है कि एक बच्चे की जान यही फल खाने के चक्कर में जाते-जाते बची है. पूरा किस्सा तफ्सील से समझाते हैं. पहले सांस ले लो.


गले में अंगूर फंसने की वजह से जान जाते-जाते बची

ऑस्ट्रेलियन महिला हैं एंजेला हेंडरसन. ब्लॉग लिखती हैं. ‘फिनली एंड मी’ के नाम से. उसे फेसबुक वाली जनता के लिए अवेलेबल करवाया हुआ है. इसी सोशल साइट पर एक पोस्ट डालकर उन्होंने ये जानकारी दी. हुआ ये कि पांच साल के अपने बच्चे को अंगूर के साथ उलझा कर वो खुद किसी काम में उलझी हुई थीं. बच्चा गटागट अंगूर गटक रहा था.

grapes may be dangrous for the childrens

थोड़ी देर बाद मम्मी ने ये देखा कि बच्चा बहुत परेशान नज़र आ रहा था. उसे सांस लेने में दिक्कत हो रही थी. जल्दी-जल्दी हॉस्पिटल ले जाकर एक्स-रे वगैरह करवाया गया.

सांकेतिक तस्वीर.
अंगूर कैसा होता है? गोल. एकदम स्मूथ टेक्सचर वाला. आसानी से फिसल जाता है. उस बच्चे को वो खाने में अच्छा लगा तो वो जल्दी-जल्दी खाने लगा. बिना चबाए. इसी जल्दी में एक अंगूर उसके विंड पाइप में फंस गया और उसे सांस लेने में दिक्कत होने लगी. एक्स-रे के बाद डॉक्टरों को पूरा मसला समझ आया. इसके बाद ऑपरेशन कर उसके गले से अंगूर निकाला गया.

grapes may be dangrous for the childrens

ये बहुत बड़ी समस्या है

इस खबर को पढ़कर आपको ये लगा होगा कि ‘फ्रीक इंसीडेंट’ है, कभी-कभार होता होगा. लेकिन ऑस्ट्रेलियन ब्यूरो ऑफ स्टैटिस्टिक्स के मुताबिक गले में कुछ फंस जाने के कारण ऑस्ट्रेलिया में हर साल नौ साल से कम उम्र के तकरीबन 2,500 बच्चे हॉस्पिटल में भर्ती किए जाते हैं. इनमें से तीस हर साल मर जाते हैं. इसलिए जैसे ही एंजेला को इस बात का इल्म हुआ, उन्होंने फटाक से अपनी फेसबुक प्रोफाइल पर सबको ये जानकारी दे दी. उन्होंने लोगों को सलाह दी कि हर बच्चा अपना खाना चबाकर नहीं खाता. स्कूल और खेलने जाने की जल्दी में वो अपना खाना सीधे निगल जाते हैं. इसलिए आप अपने बच्चों के डायट से अंगूर या ऐसी कोई भी छोटी चीज़ हटा दें. और अगर देना ही चाहते हैं तो काटकर दें.

grapes may be dangrous for the childrens

देखिए एंजेला का वो पोस्ट.

ये बात सिर्फ ऑस्ट्रेलिया ही नहीं पूरी दुनिया के लिए सबक की चीज़ है. जो एंजेला के बच्चे के साथ हुआ वो किसी के भी साथ हो सकता है. इसलिए अपना और अपने बच्चों का ख्याल रखें.

यदि आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया तो इसे अपने मित्रों के साथ जरुर शेयर करे

loading...